Gum Hoon Lyrics |Bhaagte Raho|Yasser Desai

Gum Hoon Lyrics

Gum Hoon Lyrics

Song: Gum Hoon
Singer: Yasser Desai
Film: Bhaagte Raho
Music: Hyperbol
Lyrics: Siddharth Saxena & Salamat Ali Siddiquie
Music label: Zee Music Company
Language: Hindi
Year: 2018

Presenting Gum Hoon Lyrics
“Gum Hoon”  is a new romantic song by Yasser Desai from the film Bhaagte Raho. The song is coposed by Hyperbol and Gum Hoon lyrics given by 
Siddharth Saxena & Salamat Ali Siddiquie.

Gum Hoon Lyrics

Gum hoon
Teri yaadon mein kahi gum hoon
Main kyun abhi bhi chup hoon
Kaise bin kahe bataaun gum hun

Teri yaadon mein kahi gum hoon
Main kyun abhi bhi chup hoon
Kaise bin kahe bataaun gum hun

Ish dil ka kya karoon
Teri yaadon mein jee loon
Teri yaadon mein jee loon

Jab se mila hoon tujhse 
Ho gaya hoon durr khud se
Aashiyana ho tujh mein hi
Kayee hai dua

Kab se hua hoon tumhara
Ab se hi mangoon sahara
Ye saath tera na chutey kahin
Hai duaa

Gum hoon 
Teri yaadon mein kahi gum hoon
Main kyun abhi bhi chup hoon
Kaise bin kahe bataaun gum hun

Saanson mein kuch toh naya hai
Naa jane kya darmiyaan hai
Apna le tu mujhko  hai meri ilteja


Ehshaas jo ab hua hai
Jaise ki sab kuch naya hai
Afsaana haale dil ka kaise
Ho bayaan 

Gum hoon 
Teri yaadon mein kahi gum hoon
Main kyun abhi bhi chup hoon
Kaise bin kahe bataaun gum hun

Teri yaadon mein kahi gum hoon
Main kyun abhi bhi chup hoon
Kaise bin kahe bataaun hmm hmm


गुम हूँ 
तेरी यादों में कही गुम हूँ। 
मैं क्यों अभी भी चूप हूँ। 
कैसे बिन कहे बताऊँ गुम हूँ। 

तेरी यादों में कही गुम हूँ। 
मैं क्यों अभी भी चूप हूँ। 
कैसे बिन कहे बताऊँ गुम हूँ। 

इस दिल का क्या करूँ 
तेरी यादों में जी लूँ 
तेरी यादों में जी लूँ 
जब से मिला हूँ तुझसे 
हो गया हूँ दुर खुद से 
आशियाँ हो तुझ में  ही कई है दुआ। 

कब से हुआ हूँ तुम्हारा 
अब से ही माँगूँ सहारा 
ये तेरा साथ ना छूटे कहीं है दुआ। 

गुम हूँ 
तेरी यादों में कही गुम हूँ। 
मैं क्यों अभी भी चूप हूँ। 
कैसे बिन कहे बताऊँ गुम हूँ। 

साँसों में कुछ  तो नया है 
ना जाने  क्या दरमियान है 
अपना ले तू मुझको है मेरी इल्तेज्जा। 
एहसास जो हुआ है
जैसे की सब कुछ नया है 
अफसाना हाल दिल का कैसे हो बयां। 

गुम हूँ 
तेरी यादों में कही गुम हूँ। 
मैं क्यों अभी भी चूप हूँ। 
कैसे बिन कहे बताऊँ गुम हूँ। 

तेरी यादों में कही गुम हूँ। 
मैं क्यों अभी भी चूप हूँ। 
कैसे बिन कहे बताऊँ हम्म हम्म। 

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *